STUDY NOTES

BSC 1st Year Chemistry Notes

BSC 1st Year Chemistry Notes

BSC 1st Year Chemistry Notes:-In this post-BSc 1st-year Chemistry Notes, question paper, model paper, Most important question answer, short question answer, Long Question Answer, unit 1st to 4th all unit notes are available on this site.

BSC 1st Year chemistry Notes
BSC 1st Year chemistry Notes

 


प्रश्न 1. सहयोजक बन्ध (कोवैलेंट आबन्ध ) का समांश एव विषमाश विखण्डन क्या है

प्रश्न 2. बंध उर्जा क्या है ? इसे प्रभावित करने वाले कारको का वर्णन कीजिए |

प्रश्न 3. विस्थानीकरण को स्पष्ट रूप से समझाये |

प्रश्न 4. एनिलिन,डाफेनिल एमीन व अमोनिया की क्षारीय शक्ति की तुलना कीजिए |

प्रश्न 5. मेथिल ऐमीन अमोनिया की अपेक्षा अधिक प्रबल क्षार है। क्यों?

प्रश्न 6. इलेक्ट्रॉनस्नेही अभिकर्मक क्या होते हैं? उदाहरण सहित स्पष्ट कीजिए। अथवा इलेक्ट्रॉनस्नेही अभिकर्मकों पर टिप्पणी लिखिए।

प्रश्न 7. नाभिकरनेही व ऐप्वीडेण्ट (उभयधर्मी) नाभिकरनेही क्या होते हैं?

प्रश्न 8. उचित उदाहरण सहित ऐरोमैटिकता के हकल नियम की व्याख्या कीजिए। इस नियम के आधार पर बताइए कि निम्नलिखित यौगिकों/आयनों में कौन ऐरोमैटिक नहीं होगा |

प्रश्न 9. समझाइए क्यों क्लोरोऐसीटिक अम्ल, ऐसीटिक अम्ल की अपेक्षा प्रबल अम्ल है?

प्रश्न 10. कार्बोनियम (कार्बोधनायन) में स्थायित्व का क्रम प्रेरणिक प्रभाव व हाइपरकॉन्जुगेशन (अतिसंयुग्मन) से समझाइए।

प्रश्न 11. वुट्ज अभिक्रिया पर संक्षिप्त टिप्पणी लिखिए।

प्रश्न 12. निम्नलिखित पर संक्षिप्त टिप्पणी लिखिए (अ) विकार्बोक्सिलीकरण (ब) कोल्बे की विद्युत-अपघटनी विधि।

प्रश्न 13: कोरे-हाउस संश्लेषण क्या है?

प्रश्न 14: थिर्यो तथा एरिथ्रो विवरिम समावयवी पर टिप्पणी लिखिए |

प्रश्न 15. ऐल्कोहॉल के निर्जलीकरण की क्रियाविधि लिखिए।

प्रश्न 16. E तथा Z नोटेशन (विन्यास) को समझाइए तथा निम्नलिखित में E या Z अभिविन्यास बताइए—

प्रश्न 17. निम्नलिखित यौगिकों में R अथवा S-कॉन्फीगुरेशन (अभिविन्यास) निरूपित कीजिए—

प्रश्न 18. प्रतिबिम्ब समावयवी एवं विवरिम समावयवी पर संक्षिप्त टिप्पणी लिखिए।

प्रश्न 19. ध्रुवण घूर्णकता से क्या अभिप्राय है? इसे प्रभावित करने वाले कारकों का वर्णन कीजिए।

प्रश्न 20. वाल्डन. प्रतिलोमन या प्रकाशिक प्रतिलोमन पर एक संक्षिप्त टिप्पणा | लिखिए।

प्रश्न 21. रेसिमिक तथा मीसो रूप पर संक्षिप्त टिप्पणी लिखिए।

प्रश्न 22. रेसिमीकरण पर टिप्पणी लिखिए।

प्रश्न 23. आपेक्षिक विन्यास (D, L नामकरण) पर संक्षिप्त टिप्पणी लिखिए।

प्रश्न 24. सैटजैफ व हॉफमैन नियमों की विवेचना कीजिए।

प्रश्न 25. ऐल्कोहॉलों के निर्जलीकरण की क्रियाविधि की विवेचना कीजिए।

प्रश्न 25. ऐल्कोहॉलों के निर्जलीकरण की क्रियाविधि की विवेचना कीजिए।

प्रश्न 26. प्रतिस्थापन की क्रियाविधि लिखिए।

प्रश्न 27. टेफ्लॉन क्या है? टेफ्लॉन के उपयोग एवं बनाने की विधि लिखिए।

प्रश्न 28. साइक्लोप्रोपेन के केला आबन्ध को समझाइए।

प्रश्न 29. हाइड्रॉक्सिलीकरण अभिक्रिया को उदाहरण सहित समझाइए।

प्रश्न 30. एपॉक्सीकरण (एपॉक्साइडेशन) से क्या अभिप्राय है?

प्रश्न 31. ऑक्सीम!रीकरण-विम!रीकरण (अपचयन ) अभिक्रिया को उदाहरण सहित समझाइए।

प्रश्न 32. ओजोनीकरण को उदाहरणों द्वारा स्पष्ट कीजिए। अथवा ओजोनीकरण एवं उसके अनुप्रयोग पर टिप्पणी लिखिए।

प्रश्न 33. निम्नलिखित यौगिकों में विद्यमान कार्बन परमाणुओं की संकरण (hybridisation) अवस्था बताइए

प्रश्न 34. निम्नलिखित यौगिकों के प्रत्येक कार्बन परमाणु की संकरण अवस्था लिखिए—

प्रश्न 35. निम्न यौगिकों के IUPAC पद्धति के अनुसार नाम लिखिए—

प्रश्न 36. टॉलूईन के नाभिकीय तथा पार्श्व श्रृंखला क्लोरीनीकरण को समझाइए।

प्रश्न 37. नैफ्थेलीन से आप -नैफ्थॉल और ऐस्प्रीन कैसे प्राप्त करेंगे?

प्रश्न 38. समझाइए विनाइल क्लोराइड, एथिल क्लोराइड के सापेक्ष नाभिकस्नेही, अभिक्रियाओं में नाभिकस्नेही के प्रति कम क्रियाशील क्यों है?

Unit IInd

प्रश्न 1. निम्नलिखित में से किन्हीं तीन पर संक्षिप्त टिप्पणियाँ लिखिए

(1) अतिसंयुग्मन (हाइपरकॉन्जुगेशन) (II) प्रेरणिक प्रभाव (III) अनुनाद

(IV) वियोजन

प्रश्न 2. निम्नलिखित पर टिप्पणी लिखिए .

(I) मेसोमेरिक प्रभाव

(II) इलेक्ट्रोमेरिक प्रभाव

प्रश्न 3. संकरण से आप क्या समझते हैं? संकरण के प्रमुख नियमों को स्पष्ट करके कार्बनिक यौगिकों में विभिन्न प्रकार के संकरणों को उदाहरण सहित समझाइए।’

प्रश्न 4. निम्नलिखित में से किन्हीं तीन पर संक्षिप्त टिप्पणियाँ लिखिए

      1. कार्बोनियम आयन या कार्बोकैटायन,
      2. नाइट्रीन –

III. कार्बीन ।

      1. कार्बेनायन अथवा कार्बीन्स की संरचना एवं बनाने की विधियाँ लिखिए।

प्रश्न 5. निम्नलिखित पर टिप्पणी लिखिए|

      1. मुक्त मूलक II. बेन्जाइन

Unit IIIrd

प्रश्न 6. बायर के विकृति सिद्धान्त से आप क्या समझते हैं? इसके लाभ, सीमाओं था इसमे किए गए सुधारों का वर्णन कीजिए।

अथवा

बायर के विकृति सिद्धान्त तथा अनुप्रयोगों का वर्णन कीजिए। इस सिद्धान्त के दोष था इसमे किए गए संशोधनों की विवेचना कीजिए।

Q. 7. त्रिविम समावयवता क्या है? प्रकाशिक समावयवता से आप क्या है? लैक्टिक अम्ल तथा टार्टरिक अम्ल की प्रकाशिक समावयवता की विवेचना कीजिए।

अथवा लैक्टिक अम्ल तथा टार्टरिक अम्ल के उदाहरण लेते हुए प्रकाशिक समावयवता की विस्तृत विवेचना कीजिए।

अथवा किरैलिटि क्या है? दो असमान कार्बन परमाणुओं युक्त यौगिकों में प्रकाशित समावयवता स्पष्ट कीजिए।

 

Unit IV

प्रश्न 8. (अ) ऐल्किल हैलाइडों का विहाइड्रोहैलोजेनीकरण को इनकी क्रियाविधि दीजिए।

प्रश्न 9. बेन्जीन की संरचना, केकुले संरचना के पक्ष में प्रमाण व कमियाँ तथा अनुनाद सूत्र का वर्णन कीजिए। अथवा बेन्जीन की संरचना की विवेचना कीजिए।

अथवा (क) बेन्जीन की संरचना में निम्नलिखित को समझाइए –

(i) आण्विक सूत्र असंतृप्त प्रवृत्ति प्रदर्शित करता है।

(ii) ब्रोमीन जल या क्षारीय KMnO4, विलयन का प्रभाव।

(iii) केकुले सूत्र की कमियाँ। (ख) बेन्जीन संरचना की आधुनिक संकल्पनाओं का वर्णन कीजिए।

प्रश्न 10. इलेक्ट्रॉनस्नेही ऐरोमैटिक प्रतिस्थापन अभिक्रियाओं से आप क्या समझते हैं? बेन्जीन की नाइट्रीकरण, सल्फोनीकरण तथा फ्रीडेल-क्राफ्ट ऐसिलीकरण अभिक्रियाओं की क्रियाविधि की विवेचना कीजिए।

अथवा इलेक्ट्रॉनस्नेही प्रतिस्थापन अभिक्रियाएँ क्या होती हैं? क्रियाविधि सहित विस्तृत वर्णन कीजिए।

अथवा बेन्जीन के हैलोजेनीकरण की क्रियाविधि लिखिए।

अथवा फ्रीडेल-क्राफ्ट ऐल्कलीकरण, इसकी क्रियाविधि एवं सीमाओं से आप क्या समझते हैं?

अथवा बेन्जीन के नाइट्रीकरण की क्रियाविधि लिखिए।

प्रश्न 11. नाभिकस्नेही प्रतिस्थापन अभिक्रियाओं को समझाइए। SN1 एव SN2 यानों की क्रियाविधि बताइए। इन अभिक्रियाओं को प्रभावित करने वाले कारक का भी वर्णन कीजिए |

अथवा नाभिकस्नेही प्रतिस्थापन अभिक्रियाओं से आप क्या समझते हैं? SN1 एवं SN2 क्रियाओं में अन्तर लिखिए


BSC Inorganic Chemistry Notes

BSC 1st Year Chemistry 2nd Part

UNIT-I

  1. Atomic Structure

Idea of de Broglie matter waves, Heisenberg uncertainty principle, atomic orbitals, Schrodinger wave equation, significance of y and y? quantum numbers, radial and angular wave functions and probability distribution curves, shapes of s, p, d orbitals. Aufbau and Pauli exclusion principles, Hund’s multiplicity rule. Electronic configu rations of the elements, effective nuclear charge.

  1. Periodic Properties

Atomic and ionic radii, ionization energy, electron affinity and electronegativity-definition, methods of determination or evaluation, trends in the periodic table, and applications in predicting and explaining the chemical behavior. (BSC Inorganic Chemistry Notes)

UNIT-II

III. Chemical Bonding

(A) Covalent Bond: Valence bond theory and its limitations, directional characteristics of the covalent bond, various types of hybridization and shapes of simple inorganic molecules and ions. Valence shell electron pair repulsion (VSEPR) theory to

NH3, H3O+, SF4, CIF3, ICI2-and H2O, MO theory, homonuclear and heteronuclear (CO and NO) diatomic molecules, multicenter bonding in electron-deficient molecules, bond strength and bond energy percentage ionic character from dipole moment and electronegativity difference.

(B) Ionic Solids: Ionic structures, radius ratio effect, and coordination number, limitation of radius ratio rule; lattice defects. semiconductors, lattice energy and Born-Haber Cycle, solvation energy and solubility of ionic solids, polarizing power, and polarizability of ions. Fagan’s rule, Metallic bond-free electron, valence bond, and bond theories. (BSC Inorganic Chemistry Notes )

(C) Weak Interactions: Hydrogen bonding, van der Waals forces.

UNIT-III

  1. s-Block Elements

A comparative study, diagonal relationship, salient features of hydrides, salvation, and complication tendencies including their function in biosystems an introduction to alkyls and aryls.

  1. Chemistry of Noble Gases

Chemical properties of the Noble gases, the chemistry of Xenon, structure, and bonding in Xenon compounds.BSC Inorganic Chemistry Notes

Unit-IV

  1. p-Block Elements

Comparative study (including diagonal relationship) of groups 13-17 elements, compounds like hydrides, oxides, oxyacids and halides of groups 13-16; hydrides of boron-diborane and higher boranes, borazine, borohydrides, fullerenes, carbides, fluorocarbons, silicates (structural principle), tetrasulphur tetra nitride, basic properties of halogens, interhalogens and polyhalides.

BSC Inorganic Chemistry Notes


UNIT-I

 

प्रश्न 1. कक्ष तथा कक्षक में अन्तर कीजिए।

प्रश्न 7. Be, Mg और N की इलेक्ट्रॉन बन्धुता लगभग शन्य होती है. क्यों?

प्रश्न 8. अक्रियाशील गैसों की इलेक्ट्रॉन बन्धुता शून्य होती है। कारण सहित स्पष्ट कीजिए।

प्रश्न 9. 𝛔 πआबन्धों में अन्तर लिखिए।

प्रश्न 10. H2O में आबन्ध कोण NH3 के आबन्ध कोण से कम होता है। का सहित स्पष्ट कीजिए।

प्रश्न 11. उचित तर्कों सहित समझाइए कि F (g) का F (g) से बनना ऊष्माक्षेपी हैजबकि O-2 (g) का O(g) से बनना ऊष्माशोषी है।

प्रश्न 12. निम्नलिखित आयनों को जल में विद्युत चालकता के घटते क्रम में लगाइए

प्रश्न 13. फॉस्फीन, अमोनिया से दुर्बल क्षार है, कारण सहित स्पष्ट कीजिए।

प्रश्न 14. कारण सहित बताइए कि HF द्रव है, जबकि HCl, HBr तथा HI गैस हैं।

प्रश्न 15. HF का क्वथनांक HCI से अधिक है। क्यों?

प्रश्न 16. हैलोजेन रंगीन क्यों होते हैं?

प्रश्न 17. (i) निऑन को सामान्यतया चेतावनी संकेतनों में ही क्यों प्रयोग किया जाता है?

(ii) उत्कृष्ट गैसों में केवल जीनॉन के ही यौगिक क्यों ज्ञात हैं?

प्रश्न 18. कारण बताइए

(i) उत्कृष्ट गैसें केवल फ्लुओरीन तथा ऑक्सीजन के साथ ही यौगिक क्यों बनाती हैं?

(ii) जीनॉन XeF3 तथा XeF5 प्रकार के फ्लुओराइड नहीं बनाती है।

प्रश्न 19. कारण सहित समझाइए कि NaCl, H2O में विलेय है जबकि CHCI3 नहीं।

प्रश्न 20. बोरॉन और बेरिलियम में से किसका आयनन विभव अधिक है और क्यों ?

प्रश्न 21. फॉस्फोरस का परमाणु क्रमांक सल्फर के परमाणु क्रमांक से कम है फिर भी फॉस्फोरस की प्रथम आयनन ऊर्जा सल्फर से ज्यादा है, क्यों? अथवा नाइट्रोजन की प्रथम आयनन एन्थैल्पी ऑक्सीजन से अधिक क्यों होती है?

प्रश्न 22. Fe3+ और Fe2+ में किसका आकार कम है और क्यों?

प्रश्न 23. प्रत्येक युग्म में किसका आकार बड़ा है? कारण दीजिए।

(a) Na+ या Mg2+ (b) Cu2+ या Cu+

पश्न 24. F, CI, Br में किसकी इलेक्ट्रॉन बन्धुता अधिक है और क्यों?

प्रश्न 25. स्पष्ट कीजिए कि फ्लुओरीन केवल एक ही ऑक्सोअम्ल, HOF क्यों बनाता है?

प्रश्न 26. बताइए कि क्यों समूह में विद्युत ऋणीयता नीचे की ओर घटती है?

प्रश्न 27. निम्नलिखित धनायनों को उनके आकार के अनुसार घटते क्रम में लगाइए

Ra2+, Sr2+, Ca2+, Ba2+

प्रश्न 28. आयनिक ठोस के त्रिज्या अनुपात नियम की व्याख्या कीजिए।

प्रश्न 29. HgF2, AIF3 और SnF4, आयनिक हैं परन्तु इनके क्लोराइड सहसंयोजक होते हैं, क्यों?

प्रश्न 30. निम्नलिखित यौगिकों में संकरण बताइए

प्रश्न 33. बन्धक आण्विक कक्षक तथा विपरीत बन्धक आण्विक कक्षक में अन्तर को समझाइए।

प्रश्न 34. Na+ आयन का आकार Na से छोटा होता है , क्यों? समझाइए। अथवा सोडियम परमाणु अथवा सोडियम आयन में किसका आकार बड़ा होगा और क्यों? अथवा एक धनायन अपने संगत परमाणु की अपेक्षा छोटा होता है। उदाहरण देकर समझाइए।

प्रश्न 35. कारण सहित बताइए कि CI- आयन का आकार CI परमाणु से बड़ा होता है।

प्रश्न 36. कौनसा यौगिक अधिक सहसंयोजी है—SnCI2 या SnCI4 ? कारण लिखिए।

प्रश्न 37. निम्नलिखित में कौनसा यौगिक अधिक सहसंयोजी होगा, कारण सहित लिखिए-.

(a) AICI3, या AIF3 (b) CCI4 या BCI3 (c) AgCI या NaCI

प्रश्न 38. आवरण प्रभाव को समझाइए।

प्रश्न 39. जालक त्रुटि क्या है? यह कितने प्रकार की होती है?

प्रश्न 40. कारण सहित समझाइए कि BaSo4, जल में अविलेय है जबकि Na2SO4 विलेय है।

प्रश्न 41. समझाइए क्यों, LiF जल में आंशिक (कम) विलेय है जबकि Lil पूर्ण विलेय है?

प्रश्न 42. अतिचालकता पर टिप्पणी लिखिए।

प्रश्न 43. BF3 तथा NF3 दोनों सहसंयोजक यौगिक हैं किन्तु इनमें से BF3 अध्रुवीय है, जबकि NF3 ध्रुवीय यौगिक है। समझाइए ऐसा क्यों है?

प्रश्न 44. TICI3 की तुलना में BCI3 के उच्च स्थायित्व को आप कैसे समझाएँगे?

प्रश्न 45. कारण बताइए

(i) H2S केवल अपचायक के रूप में कार्य करता है, परन्तु SO2, अपचायक तथा ऑक्सीकारक दोनों रूपों में कार्य करता है।

(ii) SF6 ज्ञात है, परन्तु SH6 नहीं।

प्रश्न 46. निम्नलिखित के कारण बताइए

(i) PF5 अथवा PCl5 ज्ञात है, परन्तु NF5 अथवा NCl5 नहीं।

(ii) अमोनिया एक अच्छी संकुलीकारक है।

अथवा अमोनिया एक लिगेण्ड के रूप में कार्य करती है।

प्रश्न 47. बोरॉन हैलाइड में B—X बन्ध दूरी का मान आपेक्षित मान से कम है, विवेचना कीजिए।

प्रश्न 48. HF बन्ध के लिए प्रतिशत आयनिक लक्षण ज्ञात कीजिए। ( H—F की लिए द्विध्रुव आघूर्ण = 1. 92 D, HF के लिए बन्ध लम्बाई = 0 • 92 )

प्रश्न 51. यद्यपि Be—H आबन्ध ध्रुवीय है, तथापि BeH2, अणु का द्विध्रुव आघूर्ण शून्य है। स्पष्ट कीजिए।

प्रश्न 52. ऑक्सीजन एक गैस है जबकि सल्फर एक ठोस है। क्यों?

प्रश्न 53. जल का क्वथनांक हाइड्रोजन सल्फाइड से अधिक होता है। कारण सहित लिखिए।

अथवा जल एक द्रव है जबकि H2S एक गैस है, क्यों?

प्रश्न 54. दर्शाइए कि सैलिसिलिक अम्ल एवं अमोनिया में किस प्रकार की बन्धुता है?

प्रश्न 55. निम्नलिखित रासायनिक समीकरणों को पूरा कीजिए

प्रश्न 56. जलअपघटन के प्रति नाइट्रोजन ट्राइफ्लुओराइड नाइट्रोजन ट्राइक्लोराइड से अधिक स्थायी है। कारण सहित बताइए।

प्रश्न 57. NH3, H2O और HF के क्वथनांक असामान्य रूप से उच्च होते हैं, क्यों?

प्रश्न 58. कार्बन डाइऑक्साइड गैस है, जबकि सिलिकन डाइऑक्साइड ठोस है, परन्तु दोनों तत्व आवर्त सारणी के एक ही समूह के सदस्य हैं तथा इनके परमाणु भारों में विशेष अन्तर नहीं है। कारण सहित स्पष्ट कीजिए।

अथवा CO2 एक गैस है जबकि SiO2 एक ठोस है, क्यों?

प्रश्न 59. NH3 का आकार पिरैमिडीय है। क्यों?

प्रश्न 60. SiCl4 का जलीय अपघटन हो जाता है लेकिन CCI4 का जलीय अपघटन नहीं होता। कारण सहित समझाइए।

प्रश्न 62. मैटल कार्बाइड्स ( धातु कार्बाइड्स ) के औद्योगिक उपयोगों का संक्षिप्त वर्णन कीजिए।

प्रश्न 62. हीलियम को शून्य वर्ग में रखने का कारण दीजिए तथा इसके उपयोग दीजि अथवा निऑन तथा आर्गन को शून्य समूह में क्यों रखा गया है?

प्रश्न 63. क्या PCl; ऑक्सीकारक और अपचायक दोनों का कार्य कर सकता। तर्क दीजिए।

प्रश्न 64. निम्नलिखित में प्रत्येक का कारण बताइए

(i) SCI6 ज्ञात नहीं है, परन्तु SF6 ज्ञात है।

(ii) सल्फर हेक्साफ्लुओराइड गैसीय विद्युतीय कुचालक के रूप में प्रयुक्त होता है |

प्रश्न 65. फुलरीन क्या हैं? इन्हें कैसे प्राप्त किया जाता है? फुलरीन की संरचना का वर्णन कीजिए।

 

UNIT-II

प्रश्न 1. श्रोडिंगर तरंग समीकरण को व्युत्पन्न कीजिए। यह किस प्रकार बोर सिद्धान्त को समझाने में सहायक है? फलन 𝛙 तथा 𝛙2 की सार्थकता को समझाइए।

अथवा श्रोडिंगर तरंग समीकरण पर संक्षिप्त टिप्पणी लिखिए।

प्रश्न 2. इलेक्ट्रॉन की द्वैती प्रकृति से आप क्या समझते हैं? देब्रॉग्ली समीकरण की व्यत्पत्ति कीजिए। घूमने वाले इलेक्ट्रॉनों की द्वैती प्रकृति का प्रयोगात्मक सत्यापन कैसे करेंगे?

अथवा देब्रॉग्ली का समीकरण पर संक्षिप्त टिप्पणी लिखिए।

प्रश्न 3. क्वान्टम संख्या से आप क्या समझते हैं? चारों क्वान्टम संख्याओं की जना कीजिए तथा परमाणु में इलेक्ट्रॉन की विवेचना में इनके महत्त्व को भी समझाइए।

प्रश्न 4. () हाइजेनबर्ग के अनिश्चितता के सिद्धान्त पर टिप्पणी लिखिए।

प्रश्न 4. () पाउली का अपवर्जन सिद्धान्त क्या है? उदाहरण सहित समझाइए। अथवा पाउली के अपवर्जन नियम पर टिप्पणी लिखिए।

प्रश्न 5. निम्नलिखित पर संक्षिप्त टिप्पणियाँ लिखिए

() ऑफबाऊ का नियम।

() हुण्ड का उच्चतम बहुलता का नियम।

प्रश्न 6. () हाइड्रोजन परमाणु में-(i) त्रिज्य प्रायिकता घनत्व, (R2) तथा (ii) त्रिज्य प्रायिकता फलन, (4πr2-R2) से क्या जानकारियाँ प्राप्त होती हैं? हाइड्रोजन परमाणु के 1s-कक्षक के लिए r के साथ ये किस प्रकार परिवर्तित होते हैं? चित्र द्वार प्रदर्शित कीजिए।

प्रश्न 6. () (i) एक वस्तु 100 मीटरसेकण्ड 1 के वेग से घुम रही है। इसकी बाग्ली तरंग लम्बाई 5 x 10-10मीटर है। वस्त का द्रव्य मान ज्ञात कीजिए |

(ii) 1. 66 x 10-27 किग्रा द्रव्यमान तथा 5 x 10-27 जुल गतिज ऊर्जा वाले गतिशील प्रोटॉन से सम्बन्धित देबॉग्ली तरंग की तरंगदैर्घ्य की गणना कीजिए।

प्रश्न 7. विद्यत ऋणात्मकता को समझाइए। यह आवर्त वर्ग में कैसे परिवर्तित होती है? पोलिंग स्केल से आप क्या समझते हैं? आयनन विभव और इलेक्ट्रॉनबन्धुता से इसका क्या सम्बन्ध है?

अथवा विद्यत ऋणीयता से आप क्या समझते हैं? इसे किस प्रकार ज्ञात किया जाता है? इसे प्रभावित करने वाले कारक कौनकौन से हैं तथा समूह में एवं आवर्त में यह कैसे परिवर्तित होती है?

प्रश्न 8. () आयनिक त्रिज्या से आप क्या समझते हैं? आवर्त सारणी के समूह तथा आवर्त में यह कैसे परिवर्तित होती है? रासायनिक व्यवहार को समझाने में इसके अनुप्रयोग क्या हैं?

प्रश्न 8. () इलेक्ट्रॉन बन्धुता से आप क्या समझते हैं? किसी आवर्त में आगे की आर जान पर तत्वा का इलक्ट्रान बन्धुता पर क्या प्रभाव पड़ता है |

अथवा इलेक्ट्रॉन बन्धुता किसे कहते हैं? आवर्त सारणी के किसी वर्ग में इलेक्ट्रॉन बन्धुता के क्रमिक परिवर्तन का वर्णन कीजिए। अथवा इलेक्ट्रॉन बन्धुता किसे कहते हैं? समझाइए।

प्रश्न 8. ( ) NH3 तथा NF3 में से किस अणु का द्विध्रुव आघूर्ण अधिक है और क्यों?

प्रश्न 9. आयनन विभव से आप क्या समझते हैं? इसको कैसे ज्ञात किया जा सकता है? यह किनकिन कारकों के द्वारा प्रभावित होता है तथा यह किस प्रकार आवन सारणी में परिवर्तित होता है?

अथवा आवर्त सारणी के किसी आवर्त में बायीं से दायीं ओर तथा वर्ग में ऊपर से नीचे के ओर तत्वों के आयनन विभवों में क्रमिक परिवर्तन को इलेक्ट्रॉनिक विन्यास के आधार पर समझाइए।

प्रश्न 10. संयोजी कक्षा इलेक्ट्रॉन युग्म प्रतिकर्षण (VSEPR) सिद्धान्त को संक्षा में समझाइए। इस सिद्धान्त के आधार पर CH4, NH3, तथा H2O के अणुओं की आकृति को स्पष्ट कीजिए। VSEPR सिद्धान्त की सीमाएँ भी दीजिए।

अथवा संयोजी कोश इलेक्ट्रॉन युग्म प्रतिकर्षण (VSEPR) सिद्धान्त को उदाहरण सहि समझाइए।

UNIT-III

प्रश्न 11. रासायनिक बन्ध के आण्विक कक्षक सिद्धान्त की व्याख्या कीजिए। इसके आधार पर O2, N2 तथा CO अणुओं का आण्विक विन्यास दीजिए। अथवा अणु कक्षक सिद्धान्त पर संक्षिप्त टिप्पणी लिखिए।

प्रश्न 12. () आण्विक कक्षकों की आपेक्षिक ऊर्जाओं में अन्तर की विवेचना कीजिए।

प्रश्न 12. () सिग्मा बन्ध पर संक्षिप्त टिप्पणी लिखिए।

प्रश्न 13. निम्नलिखित प्रत्येक पर संक्षिप्त टिप्पणी लिखिए :

() संयोजी आबन्ध सिद्धान्त तथा अणु कक्षक सिद्धान्त की तुलना

() हाइड्रोजन आबन्ध

प्रश्न 14. () द्विध्रुव आघूर्ण के अनुप्रयोगों का वर्णन कीजिए।

प्रश्न 14. () संकरण की अभिधारणा को स्पष्ट कीजिए। इसी आधार पर NH3, H2O HF यौगिकों का क्या आकार होगा?

अथवा संकरण से आप क्या समझते हैं? इसके प्रमुख नियम गुण समझाइए।

अथवा संकरण पर टिप्पणी लिखिए।

प्रश्न 15. संयोजी (या संयोजकता) बन्ध सिद्धान्त की व्याख्या इसकी सीमा: सहित कीजिए। पॉलिंगस्लैटर ने किस प्रकार इस सिद्धान्त में संशोधन किया?

अथवा संयोजकता बन्ध सिद्धान्त की विस्तारपूर्वक विवेचना कीजिए।

प्रश्न 16. () अक्रिय युग्म प्रभाव को उदाहरण सहित समझाइए।

प्रश्न 16. ( ) VSRPR सिद्धान्त के आधार पर BrF3 की आकृति की व्युत्पत्ति कीजिए।

प्रश्न 17.() ठोसों के विद्युतीय गुणों से आप क्या समझते हैं?

अथवा चालकता के आधार पर ठोसों को कितने प्रकारों में वर्गीकृत किया गया है?

() अर्द्धचालक क्या हैं? इनका वर्गीकरण किस प्रकार किया जाता है? अर्द्धचालकों की चालकता पर ताप का क्या प्रभाव पड़ता है? इनके उपयोग बताइए।

अथवा n-प्रकार तथा p-प्रकार के अर्द्धचालकों से आप क्या समझते हैं?

प्रश्न 18. क्रिस्टल दोषों से आप क्या समझते हैं? इन दोषों पर ताप का क्या प्रभाव पड़ता है? क्रिस्टल की संरचना में पाए जाने वाले दोषों की विवेचना कीजिए।

प्रश्न 19. () जालक ऊर्जा से आप क्या समझते है? जालक ऊर्जा को प्रभावित करने वाले कारकों को स्पष्ट कीजिए।

() बॉर्नहाबर चक को किसी उचित उदाहरण द्वारा स्पष्ट कीजिए तथा इसके अनुप्रयोग भी दीजिए। अथवा बॉनहाबर चक्र की व्याख्या कीजिए। किसी यौगिक की जालक ऊर्जा प्राप्त करने में इसका उपयोग किस प्रकार किया जाता है?

 

Unit-IV

प्रश्न 20. p-ब्लॉक के तत्वों की प्रवृत्ति की निम्न के सन्दर्भ में विवेचना कीजिा।

प्रश्न 21. बोरेक्स को बनाने की विधियाँ, प्रमुख गुण तथा उपयोगों का वर्णन कीजिए।

प्रश्न 22. सिलिकेट क्या होते हैं? इनकी संरचना, वर्गीकरण एवं औद्योगिक महत्व पर प्रकाश डालिए।

प्रश्न 28. नाइट्रोजन अपने वर्ग के अन्य तत्वों से भिन्न क्यों होता है? विभिन्नता दिखलाने वाले कारकों को बताइए।

प्रश्न 34. निम्नलिखित यौगिकों के बनाने की विधियों, गुणों उपयोगों का कीजिए

(i) सिलिकन टेट्राफ्लुओराइड, (ii) कैल्सियम कार्बाइड, (iii) सिलिकन कार्बाद

प्रश्न 36. आवर्त सारणी के VIA समूह के तत्वों के सामान्य लक्षणों का वर्णन कीजिए।

प्रश्न 37. आवर्त सारणी के एक ही समूह में हैलोजेन तत्वों की स्थिति की विवेचना कीजिए। अथवा फ्लुओरीन के असामान्य व्यवहार की विवेचना कीजिए।

प्रश्न 38. अन्तराहैलोजेन यौगिक क्या हैं? ये हैलोजेनों से अधिक क्रियाशाल क्यों हैं? विभिन्न प्रकार के अन्तरहैलोजेन यौगिकों के बनाने की विधि, गुण तथा सरचना का वर्णन कीजिए।

अथवा अन्तराहैलोजेन यौगिकों के निर्माण की सामान्य विधियाँ, गुणधर्म, उपयोग और संरचना का वर्णन कीजिए।

प्रश्न 39.() बोरिक अम्ल से प्रारम्भ करके निम्नलिखित यौगिकों को कैसे प्राप्त करोगे?

(i) बोरॉन ऐनहाइड्राइड (ii) बोरॉन ट्राइक्लोराइड (iii) बोरॉन हाइड्राइड (iv) बोरॉन ट्राइफ्लुओराइड।

प्रश्न 40. (अ) बोरॉन के हाइड्राइडों के बनाने की विधि, गुण तथा उपयोग की विवेचना कीजिए।

अथवा डाइबोरेन के बनाने की विधि तथा लक्षणों ( गुणधर्मों ) का वर्णन कीजिए। इसकी संरचना का भी वर्णन कीजिए।

अथवा बोरॉन हाइड्राइड का संक्षिप्त विवरण दीजिए।


BSC Physical Chemistry Notes

Bsc 1st Year 3rd Part

Unit I

प्रश्न 1. सिद्ध कीजिए कि फलन y= x5 + 5x4 – 10 का अधिकता मान x= 1 पर तथा न्यूनतम मान x= 3 पर प्राप्त होता है।

प्रश्न 7. टेराबाइट (TB) तथा पीटाबाइट (PB) के मध्य क्या सम्बन्ध है? बताइए।

प्रश्न 8. कम्प्यूटर की भाषा का संक्षेप में वर्णन कीजिए। अथवा FORTRAN का पूरा नाम लिखिए। अथवा BASIC का पूरा नाम लिखिए।

प्रश्न 9. कम्प्यूटर के विभिन्न भागों के आपसी सम्बन्ध चित्र द्वारा स्पष्ट कीजिए।

प्रश्न 10. कम्प्यूटर के विभिन्न भागों का वर्णन कीजिए।

प्रश्न 11. लेसर मुद्रक क्या है? समझाइए।

प्रश्न : 12.17 को बाइनरी में बदलिए।

प्रश्न 13. (10010) को दशमलव रूप में बदलिए।

प्रश्न 14. 5 व्यक्ति एक 8 तल के मकान के भूतल पर लिफ्ट की कोठरी में प्रवेश करते हैं। माना उनमें से प्रत्येक स्वतन्त्र रूप से तथा बराबर प्रायिकता के साथ प्रथम तल से शुरू करके किसी भी तल पर कोठरी छोड़ता है। सभी पाँच व्यक्तियों द्वारा विभिन्न तलों पर कोठरी छोड़ने की प्रायिकता ज्ञात कीजिए।

प्रश्न 15. आदर्श गैस क्या है?

अथवा आदर्श गैस क्या है, यह वास्तविक गैस से किस प्रकार भिन्न है? |

अथवा आदर्श गैस तथा वास्तविक गैस में अन्तर बताइए।

प्रश्न 16. संघट्टन व्यास और संघट्टन आवृत्ति की परिभाषा लिखिए।

प्रश्न 17. औसत चाल (uav.) और सबसे सम्भावित चाल (uMP) का सम्बन्ध लिखिए?

प्रश्न 18. NTP पर ऑक्सीजन गैस का वर्ग-माध्य-मूल (R.M.S.) वेग ज्ञात कीजिए।

प्रश्न 19. माध्य मुक्त पथ पर दांब का क्या प्रभाव होता है?

प्रश्न 20. माध्य मुक्त पथ को समझाइए।

प्रश्न 21. एकल परमाणुक गैस के लिए λ का मान 1.67 होता है। क्यों?

प्रश्न 22. कामरलिंग ओन विरियल समीकरण को लिखिए।

प्रश्न 23. बॉयल तापमान (TB) क्या होता है? वास्तविक गैस मर महत्त्व है? . –

प्रश्न 24. वान्डरवाल्स स्थिरांकों a और b के मात्रक लिखिए।

प्रश्न 25. हाइड्रोजन को सरलतापूर्वक द्रवित करना सम्भव नही है व्याख्या कीजिए।

प्रश्न 26. किसी द्रव के क्वथनांक पर उसकी गतिज ऊर्जा की समीकरण लिखिए।

प्रश्न 27. द्रव क्रिस्टल के दो रूपों के नाम लिखिए।

प्रश्न 28. द्रव अवस्था में किस-किस प्रकार के अन्तराअणुक बल होते हैं? ,

प्रश्न 29. ‘क्रिस्टल जालक’ एवं ‘एकक कोष्ठिका’ पदों से आप क्या समझते हैं?

प्रश्न 30. घनीय क्रिस्टल में सममिति के तत्वों की कुल संख्या कितनी है?

प्रश्न 31. क्रिस्टलीय तथा अक्रिस्टलीय ठोसों में अन्तर लिखिए।

प्रश्न 32. एक एकल सेल में चार परमाणु या आयन रखने वाले जालक की संरचना क्या होती है?

प्रश्न: 33. हाइड्रोजन के लिए वान्डरवाल्स स्थिरांक a व 6 लीटर-वायुमण्डल इकाई में क्रमशः 0 : 246 तथा 2-67x 10-2 हैं। हाइड्रोजन के लिए बॉयल ताप (या व्युत्क्रमण ताप) ज्ञात कीजिए।

प्रश्न 35. कोलॉइडी अवस्था में पदार्थ अधिक प्रभावशाली क्यों होता है?

प्रश्न 36. द्रवविरोधी सॉल और स्वर्ण संख्या को परिभाषित कीजिए।

प्रश्न 37. द्रव-स्नेही तथा द्रव-विरोधी कोलॉइडी विलयनों में अन्तर लिखिए।

प्रश्न 38. दूध किस प्रकार का पायस है?

प्रश्न 39. नदी तथा समुद्र के मिलन बिन्दु पर डेल्टा बनने का कारण बताइए।

प्रश्न 40. आकाश का रंग नीला क्यों होता है?

प्रश्न 41. रक्षण की व्याख्या उपयुक्त उदाहरण सहित कीजिए।

प्रश्न 42. कारखानों से निकलने वाले धुएँ को कार्बन रहित कैसे किया जाता सकारण बताइए।

प्रश्न 43. साबुन से कपडे क्यों साफ हो जाते हैं?

प्रश्न 44. निम्नलिखित सॉल में किस पर आवेश होगा

प्रश्न 45. गँदले पानी को साफ करने के लिए फिटकरी का प्रयोग किया जाता है, क्यों? समझाइए।

प्रश्न 46. अभिक्रिया के वेग तथा वेग स्थिरांक से आप क्या समझते हैं?

प्रश्न 47. शून्य कोटि की अभिक्रिया की परिभाषा दीजिए। इसके लिए वेग व्यंजक स्थापित कीजिए।

प्रश्न 48. छद्म (आभासी) एकाणुक अभिक्रिया क्या होती है

प्रश्न 49. तीन विभिन्न दाबों पर फॉस्फीन के तापीय अपघटन के लिए। अर्द्धजीवनकाल निम्न प्रकार हैं

प्रश्न 50. एके प्रथम कोटि की अभिक्रिया 8 मिनट (t1/2) में 50% पूर्ण होती है। ज्ञात करें कि 24 मिनट में अभिक्रिया का कितना अंश पूर्ण होगा?

प्रश्न 51. अभिक्रिया वेग पर ताप तथा सान्द्रण का क्या प्रभाव पड़ता है?

प्रश्न 52. एक परिस्थिति बताइए जिसके अन्तर्गत एक द्विआण्विक अभिक्रिया: बलगतिकीय रूप से प्रथम-कोटि की हो सकती है। .

प्रश्न 53. अभिक्रिया : एस्टर + H+अम्ल + ऐल्कोहॉल का वेग नियम। निम्नलिखित है

प्रश्न 54. उच्च कोटि की अभिक्रियाएँ दर्लभ क्यों हैं?

प्रश्न 55. शून्य तथा प्रथम कोटि की अभिक्रियाओं के वेग स्थिरांक की इकाइयाँ लिखिए।

प्रश्न 56. अभिक्रिया की सक्रियण ऊर्जा को परिभाषित कीजिए।

प्रश्न 57. मुक्त मूलकों की संयोग (योग) अभिक्रिया की सक्रियण ऊर्जा कितनी होती है?

प्रश्न 58. उत्प्रेरक विष को परिभाषित कीजिए।

प्रश्न 59. दूध से दही का जमना किस एन्जाइम के कारण होता है?

प्रश्न 60, अम्ल-क्षार उत्प्रेरण पर लघु टिप्पणी लिखिए।

 

Unit IInd

प्रश्न 1. (i) logex का अवकलन गुणांक ज्ञात कीजिए।

प्रश्न 2. (अ) बिन्दु पथ, बिन्दु के बिन्दु पथ के समीकरण, सरल से आप क्या समझते हैं?

(ब) सामान्य समीकरण Ax + By + C = 0 की प्रवणता को अन्तः खण्डों का y=mx + e में परिवर्तित कीजिए।

(स) निम्नलिखित रेखाओं की प्रवणताओं तथा अन्तःखण्डों को ज्ञात कीजिए

(i) 2y = 8x + 2 (ii) 3y = 4x + 5

(द) बिन्दुओं (3, 2) तथा (-2, 5) से होकर जाने वाली रेखा की प्रवणता ज्ञात कीजिए।

प्रश्न 5. कम्प्यूटर को परिभाषित कीजिए तथा कम्प्यूटर के हार्डवेयर एवं सॉफ्टवेयर घटकों की विवेचना कीजिए।

प्रश्न 6. कम्प्यूटर की विभिन्न भाषाएँ क्या हैं? इसकी प्रत्येक भाषा की विस्तारपूर्वक व्याख्या कीजिए।

 

Unit IIrd

प्रश्न 7. (अ) सिद्ध कीजिए—

प्रश्न 7. (ब) संगत अवस्थाओं के नियम पर संक्षिप्त टिप्पणी लिखिए। अथवा संगत अवस्थाओं का नियम क्या है? वाण्डरवाल्स समीकरण से समानीत अवस्था समीकरणं निकालें।

प्रश्न 8. गैसों के गतिक सिद्धान्त की संक्षिप्त व्याख्या करते हुए गतिक समीकरण की व्युत्पत्ति कीजिए। गतिक विचारों के आधार पर समीकरण PV = RT का निगमन कीजिए। गतिक समीकरण से विभिन्न गैसीय नियमों को कैसे व्युत्पन्न करते हैं?

प्रश्न 9. 1023 गैस अणुओं का दाब एक लीटर के बर्तन में ज्ञात कीजिए यदि . प्रत्येक अणु का भार 10-22 ग्राम है तथा मूल माध्य वर्ग चाल 105सेमी सेकण्ड1 है।।

प्रश्न 10. (अ) अणुओं के औसत वेग, वर्ग-माध्य-मूल वेग तथा प्रायिकता वेग की परिभाषा लिखिए तथा ये किस प्रकार सम्बन्धित हैं? अथवा निम्नलिखित पर संक्षिप्त टिप्पणी लिखिए-सर्वाधिक सम्भावित चाल। अथवा वर्ग-माध्यमूल वेग तथा सर्वाधिक प्रायिक वेग को परिभाषित कीजिए।

प्रश्न 10. (ब) 1000°C ताप पर CO2 अणु के लिए R.MSA कीजिए।

प्रश्न 11.(अ) स्थिर आयतन पर आर्गन की विशिष्ट ऊष्मा 0.075 तथा अणु भा 40 है। इसके अणु में कितने परमाणु हैं? (R = 1.99 कैलोरी प्रति डिग्री प्रति मोल)।

प्रश्न 11. (ब) वान्डरवाल्स स्थिरांक लीटर-वायुमण्डल दाब प्रति मोल CO2 लिए, a = 3.6तथा b = 4.28 x 10-2 हैं। गैस के लिए TC तथा VC ज्ञात कीजिए।

प्रश्न. 12. समीकरण PV = n RT के सीमाबन्धन क्या हैं तथा वान्डरवाल्यो मधार किए? वान्डरवाल्स समीकरण किस प्रकार आदर्श व्यवहार से गैसों के बचलन को स्पष्ट करती है?

प्रश्न 13. CO2 गैस के 0.5 मोल का 27°C पर दाब 100kPa है। इसका आयतन (a) गैस समीकरण तथा (b) वान्डरवाल्स समीकरण द्वारा ज्ञात कीजिए।

(a = 0 . 5 Nm4mol-2, b = 4 x 10-5 m3 JK-1 mol-1, R = 8. 314 mol-1)

प्रश्न 14. (अ) जूल-थॉमसन प्रभाव पर टिप्पणी लिखिए।

प्रश्न 14. (ब) शीत उत्पन्न करने के लिए कौन-सी विधियाँ प्रयुक्त होती है तथा पहुँच जाता है? यह कैसे किया जाता है? गैसों के द्रवीकरण में यह कैसे जाता है ? द्रवीकरण का महत्त्व बताइए।

प्रश्न 15. वान्डरवाल्स समीकरण तथा क्रान्तिक घटना के सम्बन्ध में क्रान्ति स्थिरांकों से क्या तात्पर्य है? वान्डरवाल्स स्थिरांक के रूप में क्रान्तिक स्थिराक कीजिए। क्रान्तिक स्थिरांकों के मान प्रयोग द्वारा किस प्रकार ज्ञात करते हैं?

प्रश्न 16. द्रव क्रिस्टल क्या होते हैं? स्मेक्टिक द्रव क्रिस्टल और नीमैटिक द्रव क्रिस्टल में क्या अन्तर है? अथवा द्रव क्रिस्टल क्या हैं? उनका वर्गीकरण कैसे किया जाता है? कोलेस्टेरिक द्रव क्रिस्टलों की संरचना का वर्णन कीजिए।

अथवा द्रव क्रिस्टल की नीमैटिक एवं कोलेस्टेरिक प्रावस्थाओं की संरचनाएँसमझाइए।

Unit IV

प्रश्न. 17. क्रिस्टलों द्वारा X-किरणों के विवर्तन के लिए बैग्र समीकरण की व्युत्पति कीजिए। किसी क्रिस्टल की आन्तरिक संरचना ज्ञात करने की विधियों का वर्णन कीजिए।

प्रश्न 18. कलिल अवस्था (कोलॉइडी अवस्था ) को परिभाषित कीजिए और इसकी विशेषताओं का वर्णन कीजिए। परिक्षिप्त प्रावस्था एवं परिक्षेपण माध्यम की भौतिक अवस्था के आधार पर कलिल अवस्थाओं (कोलॉइडी अवस्थाओं) का उदाहरण सहित वर्गीकरण कीजिए।

प्रश्न 19. (अ) कोलॉइडी अवस्था तथा कोलॉइडी विलयन से आप क्या समझते हैं? वास्तविक विलयन, निलम्बन व कोलॉइडी विलयन के गुणों की तुलना कीजिए।

अथवा कोलॉइड क्या है तथा इनका वर्गीकरण किस प्रकार किया जाता है? वास्तविक विलयन व कोलॉइड विलयन में क्या अन्तर है?

(ब) द्रव-स्नेही तथा द्रव-विरोधी कोलॉइडों को स्पष्ट करके उनमें अन्तर भी कीजिए।

प्रश्न 20. कोलॉइडी विलयन बनाने की विधियाँ तथा उनके शुद्धिकरण की विधियों का वर्णन कीजिए।

अथवा कोलॉइडी अवस्था तथा कोलॉइडी विलयन की व्याख्या कीजिए। कोलॉइडी । विलयन बनाने तथा उनके शुद्धिकरण में प्रयुक्त विभिन्न विधियों का वर्णन कीजिए।

प्रश्न 21.(अ) (i) रक्षी कोलॉइड तथा स्वर्ण संख्या पर संक्षिप्त टिप्पणी लिखिए। अथवा स्वर्ण संख्या को परिभाषित कीजिए।

(ii) स्टार्च की स्वर्ण संख्या 25 है। स्टार्च की वह मात्रा ज्ञात कीजिए जो कि 1100 मिली स्वर्ण सॉल को 10 मिली, 10% NaCl द्वारा स्कन्दित होने से रोक सकती हो।

प्रश्न 21. (ब) टिण्डल प्रभाव पर संक्षिप्त टिप्पणी लिखिए।

प्रश्न 22. (अ) मिलर घातांक पर एक संक्षिप्त टिप्पणी लिखिए।

प्रश्न 23. (अ) सीजियम क्लोराइड की संरचना का वर्णन कीजिए।

प्रश्न 23. (ब) सोडियम क्लोराइड (रॉक लवणं) की क्रिस्टल संरचना का वर्णन कीजिए।

प्रश्न 25. () कोलॉइडी विलयनों के स्थायित्व का वर्णन कीजिए।

प्रश्न 25. (ब) ब्राउनी गति का संक्षेप में वर्णन कीजिए।

प्रश्न 26. (अ) पायस पर संक्षिप्त टिप्पणी लिखिए। अथवा पायस को परिभाषित करते हुए उसकी विवेचना कीजिए।

प्रश्न 26.(ब) पायस के प्रकार का निर्धारण करने वाले घटकों का वर्णन कीजिए। पायस कैसे निर्मित किए जाते हैं?

प्रश्न 27. (अ) स्कन्दन पर संक्षिप्त टिप्पणी लिखिए। अथवा हार्डी-शुल्जे नियम के साथ स्कन्दन को परिभाषित करते हुए इसकी विस्तारपूर्वक व्याख्या कीजिए।

प्रश्न 27. (ब) विद्युत-कण संचलन पर संक्षिप्त टिप्पणी लिखिए।

प्रश्न 27. (स)-कोलॉइडी कणों पर विद्युत आवेश की उत्पत्ति कीजिए।

प्रश्न 28. रसायन में कोलॉइडों के महत्त्वपूर्ण अनुप्रयोगों की व्याख्या कीजिए।

 


Zoology

Inorganic Chemistry

Lower Non-Chordata

Video Lecture

2 thoughts on “BSC 1st Year Chemistry Notes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Bcom
Mcom
Bsc
Chat
%d bloggers like this: